मोहम्मद शमी का जीवन परिचय, परिवार, जाति, पत्नी, अफेयर्स, व‌र्ल्ड रिकार्ड्स, नेट वर्थ

Mohammed Shami Biography in Hindi :

मोहम्मद शमी का शुरुआती क्रिकेट करियर

उत्तर प्रदेश राज्य में जन्मे मोहम्मद शमी अपने राज्य के तरफ से अंदर-19 में नहीं खेल पाए थे। इसके बाद मोहम्मद शमी के कोच बदरूद्दीन सिद्दीकी ने उन्हें कोलकाता चले जाने का सलाह दिया था जिसके बाद वह कोलकाता चले गए और डलहौजी एथलेटिक क्लब के तरफ से खेलना शुरू किया। यहां पर मोहम्मद शमी के ऊपर बंगाल क्रिकेट एसोसिएशन के पूर्व सहायक सचिव देवव्रत दास की नजर परी थी जिन्होंने मोहम्मद सभी को मोहन बागान क्लब मे प्रेक्टिस करने के लिए भेज दिया था।

मोहन बागान क्लब में मोहम्मद शमी ने भारत के पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली के निगरानी में नेट में खूब पसीना बहाया और मेहनत किया था जिसके बाद उन्हें कोलकाता लीग में टाउन क्लब के लिए खेलने का मौका मिला और इन्होंने 40 से ज्यादा विकेट चटकाए थे। इसके जल्द बाद ही मोहम्मद शमी को बंगाल की रणजी टीम में खेलने का मौका दिया गया था।

मोहम्मद शमी का घरेलू क्रिकेट करियर।

मोहम्मद शमी ने अक्टूबर 2010 में अपने घरेलू क्रिकेट करियर में डेब्यू किया था। साल 2010 से 11 रणजी ट्रॉफी में बंगाल के तरफ से खेलते हुए मोहम्मद शमी ने असम के खिलाफ तीन विकेट लिए थे। इसके बाद मोहम्मद शमी ने 10 फरवरी 2011 को विजय हजारे ट्रॉफी में उड़ीसा के खिलाफ लिस्ट एक क्रिकेट में अपना डेब्यू किया था। इस मुकाबले में शमी ने 10 ओवर में 39 रन देकर तीन विकेट निकाले थे।

वहीं इसके बाद 20 अक्टूबर 2010 को शमी ने सैयद मुस्ताक अली ट्रॉफी में असम के खिलाफ अपना T20 डेब्यू किया था, इस मुकाबले में इन्होंने 4 ओवर में 24 रन देकर 4 विकेट लिए थे। घरेलू क्रिकेट में लगातार अच्छा प्रदर्शन करने के बाद मोहम्मद शमी को साल 2012 में भारत ए टीम के लिए चुना गया था। मोहम्मद शमी ने जून 2012 में वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट मुकाबले में चेतेश्वर पुजारा के साथ 10 में विकेट के 73 रनों की मैच विनिंग पार्टनरशिप की थी। इसके तुरंत बाद मोहम्मद शमी को भारत क्रिकेट टीम में खेलने का मौका दिया गया था।

मोहम्मद शमी का आईपीएल क्रिकेट करियर।

मोहम्मद शमी ने अपने क्रिकेट करियर का शुरुआत साल 2013 से किया था। मोहम्मद शमी को सबसे पहले कोलकाता नाइट राइडर्स के टीम ने अपने टीम में शामिल किया था लेकिन पहले सीजन में इन्हें ज्यादा चांस भी नहीं दिया गया और ना ही यह अच्छा प्रदर्शन कर पाए थे। इन्हें ज्यादातर मैचों में बेंच पर ही बैठा दिया गया था। इसके बाद अगले सीजन यानी आईपीएल 2014 में दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम ने मोहम्मद शमी को 4.25 करोड रुपए देकर अपने टीम में शामिल कर लिया था।

दिल्ली के तरफ से खेलते हुए मोहम्मद शमी ने पहले सीजन में 12 मुकाबला खेल कर 7 विकेट चटकाए थे। दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम ने 2015 सीजन के लिए भी मोहम्मद शमी को अपने टीम में बरकरार रखा था। यहां तक की दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम ने आईपीएल 2018 के ऑक्शन में भी मोहम्मद शमी को खरीद कर अपने ही टीम में रखा।

लेकिन अगले सीजन यानी आईपीएल 2019 में मोहम्मद शमी को किंग्स इलेवन पंजाब ने 4.8 करोड रुपए देकर अपनी टीम में शामिल कर लिया था। किंग्स इलेवन पंजाब के तरफ से खेलते हुए अपने पहले सीजन में मोहम्मद शमी ने टीम के तरफ से सबसे बेहतर प्रदर्शन किया था और टीम के सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज भी बने थे। इसके बाद साल 2020 और 2021 में मोहम्मद शमी लगातार अच्छा प्रदर्शन करते रहे और 20 विकेट और 19 विकेट लिए थे।

इसके बाद साल 2022 में आईपीएल मेगा ऑक्शन देखने को मिला था और इसके कारण मोहम्मद शमी को एक नई टीम गुजरात टाइटंस मिला। मेगा एक्शन में गुजरात टाइटंस की टीम ने मोहम्मद शमी को 6.25 करोड़ की भारी रकम देकर अपने टीम में शामिल कर लिया था। गुजरात टाइटंस के तरफ से खेलते हुए मोहम्मद शमी ने अपने पहले सीजन में काफी अच्छा प्रदर्शन दिखाया था।

शमी ने 16 मैचों में टीम के लिए 20 विकेट चटकाए थे और आईपीएल खिताब जीतने में काफी अहम भूमिका भी निभाए थे। वही मोहम्मद शमी ने आईपीएल 2023 में भी अपना बेहतरीन प्रदर्शन जारी रखा था और 17 मुकाबले में कुल 28 विकेट हासिल किए थे जिसके चलते गुजरात टाइटंस की टीम आईपीएल 2023 के फाइनल तक पहुंच पाई थी।

मोहम्मद शमी का अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू

  • टेस्ट- 6 नवंबर 2013 बनाम वेस्ट इंडीज, कोलकाता
  • वनडे- 6 जनवरी 2013 बनाम पाकिस्तान, दिल्ली
  • टी20I- 21 मार्च 2014 बनाम पाकिस्तान, ढाका

मोहम्मद शमी का अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर

वनडे क्रिकेट–

घरेलू क्रिकेट में बेहतरीन प्रदर्शन करने के बदौलत मोहम्मद शमी को 2013 में भारतीय टीम में जगह दिया गया। मोहम्मद शमी ने अपना वनडे डेब्यू पाकिस्तान के खिलाफ दिल्ली में 6 जनवरी 2013 को किया था। अपने पहले मुकाबले में मोहम्मद शमी ने काफी बेहतर प्रदर्शन करते हुए नव ओवर में मात्र 23 रन देकर एक विकेट लिए चटकाया था। इस मुकाबले में इन्होंने चार ओवर मेडन डाले थे। इसके बाद साल 2014 में मोहम्मद शमी ने न्यूजीलैंड के खिलाफ खेलते हुए एक सीरीज में 11 विकेट चटकाए थे और इस सीरीज में इनका औसत 28.72 का रहा था।

एशिया कप 2014 में मोहम्मद शमी सबसे तेज 50 विकेट लेने वाले भारत के दूसरे गेंदबाज बन गए थे। इसी साल मोहम्मद शमी को आईसीसी के वनडे 11 में भी चुना गया था। इसके बाद अगले होने वाले विश्व कप यानी विश्व कप 2015 में मोहम्मद शमी ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए पूरे सीरीज में कुल 17 विकेट चटकाए थे और अपना नाम का परचम चारों तरफ फैला दिया था। लेकिन घुटने में फ्रैक्चर होने के कारण मोहम्मद शमी को कुछ समय के लिए भारतीय टीम से अलग रहना पड़ा था।

इसके बाद मोहम्मद शमी ने 2 जुलाई 2017 को वेस्टइंडीज के खिलाफ अपनी वापसी की थी। साल 2019 में न्यूजीलैंड सीरीज मैं मोहम्मद शमी ने 9 विकेट लेने के साथ ही सबसे तेज 100 विकेट लेने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बन गए थे। इस सीरीज में मोहम्मद शमी को ‘मैन ऑफ द सीरीज’ का भी अवार्ड दिया गया था। इसके बाद से मोहम्मद शमी लगता और भारतीय टीम के साथ जुड़े रहे हैं। वर्ल्ड कप 2023 में मोहम्मद शमी का प्रदर्शन सबसे ज्यादा लाजवाब था। इस टूर्नामेंट में मोहम्मद शमी सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले खिलाड़ी भी बने हैं।

T20 क्रिकेट-

मोहम्मद शमी ने सबसे ढ़ेर से T20 फॉर्मेट में ही डेब्यू किया था। मोहम्मद शमी ने अपना इंटरनेशनल T20 देबू पाकिस्तान के खिलाफ खेलते हुए 21 मार्च 2014 को किया था। इस मुकाबले में इन्होंने चार ओवर में 31 रन देकर 1 विकेट चटकाए थे। मोहम्मद शमी का अंतरराष्ट्रीय T20 में पहला शिकार पाकिस्तान की उमर अकमल बने थे।

इसके बाद मोहम्मद शमी को इंग्लैंड दौरे पर भी चुना गया जहां उन्होंने एक मुकाबले में तीन अहम विकेट चटकाए थे। इसके बाद मोहम्मद शमी को लगभग दो सालों तक T20 फॉर्मेट से दूर रहना पड़ा था लेकिन 2 साल के बाद इन्हें वेस्टइंडीज के खिलाफ वापसी करने का मौका दिया गया था। हालांकि उसे वक्त मोहम्मद शमी कुछ खास नहीं कर पाए थे जिसके बाद उन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ तीन T20 मैचों की सीरीज में खेलने का मौका दिया गया था।

इस सीरीज में मोहम्मद शमी ने सिर्फ 2 ही विकेट अपने नाम कर पाए थे। सितंबर 2021 में मोहम्मद शमी को T20 विश्व कप 2021 के लिए भारतीय टीम में शामिल किया गया था लेकिन इन्होंने यहां पर उतना अच्छा प्रदर्शन करने में असफल रहे। मोहम्मद शम्मी ने t20 विश्व कप 2021 में 5 मुकाबले खेले जिसमें मात्र 6 विकेट चटकाए थे।

टेस्ट क्रिकेट-

मोहम्मद शमी ने अपने टेस्ट क्रिकेट का शुरुआत कोलकाता में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेलते हुए 6 नवंबर 2013 को किया था। मोहम्मद शमी ने अपने डेब्यू मैच में ही जो विकेट हासिल किए थे जो कि किसी भी भारतीय तेज गेंदबाज द्वारा अपने डेब्यू मैच में सबसे ज्यादा है। उनके शानदार प्रदर्शन के बदौलत आगे होने वाली दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज में भी टीम में शामिल किया गया था। मोहम्मद शमी ने दो टेस्ट मैच में कुल 6 विकेट चटकाए थे।

इसके बाद मोहम्मद शमी का चयन साल 2014-15 बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी के लिए भारतीय टीम में किया गया था और इस सीरीज में इन्होंने पांच परियों में 15 विकेट अपने नाम किया था। इसके बाद मोहम्मद शमी को जून 2021 में न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के लिए टीम में शामिल किया गया। पहली बारी में शानदार गेंदबाजी करते हुए मोहम्मद शमी ने 4 विकेट लिए लेकिन दूसरी पारी में वह अच्छा प्रदर्शन करने में असफल रहे। इसके बाद फिर से मोहम्मद शमी को इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होने वाली सीरीज के लिए टीम में चुना गया था।

इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए पांच पारियों में इन्होंने 11 विकेट चटकाए थे जबकि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 3 मैचों में इन्होंने 14 विकेट लिए थे। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ ही मोहम्मद शमी ने पहली बार 5 विकेट हौल लेने का कारनामा अपने नाम किया था। इसके अलावा मोहम्मद शमी ने ट्रेन ब्रिज में इंग्लैंड के खिलाफ अपना पहला टेस्ट शतक लगाया था। इस मुकाबले में मोहम्मद शमी ने जसप्रीत बुमराह के साथ पार्टनरशिप करते हुए नाबाद 56 रनों की पारी खेली थी और अपने टेस्ट करियर का सर्वोच्च स्कोर भी बनाया था।

मोहम्मद शमी का ओवरऑल क्रिकेट करियर

बॉलिंग–

प्रारूपकुल मैचपारीकुल रनविकेटइकॉनोमीऔसतसर्वश्रेष्ठ
टेस्ट (Test)64122115152293.3127.716/56
वनडे (ODI)10110046181955.5523.687/57
टी20 (T20)2323477248.9429.623/15
आईपीएल (IPL)11011024261278.4426.864/11

बैटिंग–

प्रारूपकुल मैचपारीकुल रनउच्चतम स्कोरऔसतस्ट्रइक रेटशतकदोहरा शतकअर्धशतक
टेस्ट (Test)64897505611.974.63002
वनडे (ODI)10148220257.8583.01000
टी20 (T20)233000.00.0000
आईपीएल (IPL)1102574215.6993.67000

मोहम्मद शमी के क्रिकेट रिकॉर्ड

  • मोहम्मद शमी ने साल 2013 में अपने डेब्यू देबू के मैच में ही 9 विकेट चटकाए थे जो कि किसी भी भारतीय तेज गेंदबाज द्वारा डेब्यू में सबसे ज्यादा विकेट है।
  • मोहम्मद शमी वन डे इंटरनेशनल क्रिकेट में भारत के तरफ से 50 विकेट लेने वाले दूसरे सबसे तेज गेंदबाज हैं।
  • जनवरी 2019 में मोहम्मद शमी भारत के तरफ से सबसे तेज 100 विकेट लेने वाले भारतीय गेंदबाज बने थे।
  • जून 2019 में विश्व कप मैच में हैट्रिक लेने वाले मोहम्मद शमी दूसरे भारतीय खिलाड़ी बने हैं।
  • वनडे वर्ल्ड कप के इतिहास में दो बार पांच विकेट लेने का रिकॉर्ड मोहम्मद शमी के नाम दर्ज है।
  • साल 2021 के दिसंबर महीने में मोहम्मद शमी ने सबसे कम गेंद में 200 टेस्ट विकेट लेने वाले तीसरे सबसे तेज भारतीय तेज गेंदबाज बने थे, जो की एक रिकॉर्ड है।
  • वही, जनवरी 2022 तक मोहम्मद शमी का वनडे इंटरनेशनल में करियर का दसवां सर्वश्रेष्ठ स्ट्राइक रेट है।
  • मोहम्मद शमी के पास वनडे अंतरराष्ट्रीय मैचों में एक पारी में सर्वाधिक लगातार चार विकेट (3) लेने का रिकॉर्ड है।
  • साल 2022 में मोहम्मद शमी वनडे में सबसे तेज 150 विकेट लेने वाले गेंदबाज का रिकॉर्ड अपने नाम किया है।
  • मोहम्मद शमी सबसे कम गेंद में भारत के लिए 200 विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं।

Leave a Comment

IND vs NZ सेमीफ़ाइनल : भारत ने न्यूज़ीलैंड को 70 रन से हराया बेहद खूबसूरत है जवान के डायरेक्टर एटली कुमार की पत्नी कल्पना चावला की कहानी आर्यन खान का जीवन परिचय उत्कर्ष शर्मा की कुछ खास बातें।